Header Ads

प्रौद्योगिकी का युग है यह किस प्रकार सामान्य भारतीय व्यक्ति को प्रभावित कर रहा है


सूचनाओं का आदान-प्रदान सामूहिक सामाजिक जीवन का अनिवार्य अंग ऐसा माना जाता है कि शक्ति उसी के पास होती है जिसके बाद सूचनाएं अधिक होती हैं आधुनिक सूचना के साथप्रौद्योगिकी का चिराग और किसके द्वारा सूचनाओं के प्रभाव की मात्रा व गुणवत्ता में तीव्र वृद्धि में सूचना प्रौद्योगिकी की सामान्य व्यक्ति के व्यक्तित्व विकास का आधार बना दिया है सामान्य भारतीय व्यक्ति को भी यह कारगर तरीके से प्रभावित कर रहा है जिस की व्याख्या हम निम्न बिंदुओं के अंतर्गत की जा सकती है





सूचना प्रौद्योगिकी के विस्तार भूगोल भाषा संस्कृत के आधार पर विभाजित सामान्य भारतीय व्यक्ति को एक दूसरे से अधिक निकट लाया है जिसके एकीकृत भारत राष्ट्र के निर्माण में सहयोग मिला है सूचना प्रौद्योगिकी इंटरनेट दूरदर्शन दूरसंचार इत्यादि द्वारा प्रदान सेवाओं के माध्यम से सामान्य भारतीय व्यक्ति का चुनाव से पहले से अधिक बढ़ गया यानी सामान्य भारतीय की जानकारी और जागरूकता बड़ी है





शिक्षा में भारत के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों पुस्तकालयों शोध संस्थानों को इंटरनेट द्वारा जोड़ दिया गया है इससे अध्ययन एवं अध्यापन में काफी सुविधा मिलती है इंटरनेट के द्वारा विश्व के किसी भी प्रसिद्ध पुस्तकालयों के पुस्तकों की सूचनाओं को भी पढ़ा जा सकता है आर्थिक क्षेत्र में बहुत तरीके से सूचना पर दिखी का जन सामान्य को प्रभावित किया है