Header Ads

प्राचीन भारतीय इतिहास पर सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी: भारतीय दर्शन प्रणाली

प्राचीन भारतीय इतिहास पर सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी: भारतीय दर्शन प्रणाली सेट




प्राचीन भारतीय इतिहास पर सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी: भारतीय दर्शन प्रणाली सेट V में भारतीय दर्शन से संबंधित 10 वस्तुनिष्ठ प्रश्न दिए गए हैं जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे- UPSC, PCS, SSC, CDS, NDA, एवं रेलवे की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए लाभकारी हैं।

प्राचीन भारतीय इतिहास पर सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी: भारतीय दर्शन प्रणाली सेट में भारतीय दर्शन से संबंधित  20 वस्तुनिष्ठ प्रश्न दिए गए हैं जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे- UPSC, PCS, SSC, CDS, NDA, एवं रेलवे की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए लाभकारी हैं।

1. निम्न में से कौन सा सांख्य दर्शन के अनुसार सृष्टि के सही क्रम है?  

A.  पुरूषक्त, प्रकृति, अहंकार, महत

B.  प्रकृति, पौरूस, अहंकार, महत

C.  प्रकृति, पौरस, महत, अलंकार

D.  पौरस, प्रकृति, महत, अहंकार

Ans: D


2. निम्नलिखित में से कौन सा दर्शन कहता है कि, "भगवान और आत्मा के विभिन्न सिद्धांतों की परवाह मत करो; अच्छा करो और अच्छा बनो; यही आपको सच्चाई की राह पर ले जाएगा?  



A.  सांख्य दर्शन

B.  बौद्ध धर्म के दर्शन

C.  वेदांत का दर्शन

D.  जैन धर्म का दर्शन

Ans: B


3. निम्न में से कौन सा दर्शन व्यक्तिवाद को बढ़ावा देता है?  

A.  जैन धर्म के दर्शन

B.  सांख्य दर्शन
C.  बौद्ध धर्म के दर्शन

D.  इनमे से कोई भी नहीं

Ans: A


4. इनमें से कौन से भारतीय दर्शन के दो डिवीजन स्कूल रहे हैं?  

A.  बौद्ध धर्म और जैन धर्म

B.  अद्वैत और द्वैत

C.  आस्तिक और नास्तिक

D.  रूढ़िवादी और विधर्मिक

Ans: D




5. जैन धर्म में शिक्षा का अंतिम लक्ष्य क्या है?

A.  अहिंसा  त्याग

B.  मोक्ष

C.  मानव कल्याण के स्वैच्छिक

D.  पदोन्नति

Ans: C

 

6. निम्न में से किसमें बौद्ध धर्म में शिक्षा की दीक्षा का समारोह है?

A.  शिक्षा

B.  उपनयम

C.  बीजा

D.  दीक्षा

Ans: C


7. निम्न में से कौन सा जैन धर्म का मंत्र हैं?  

A.  सभी पापी कृत्य जीवन भर के लिए त्यागना

B.  सभी कृत्यों जीवन भर के लिए त्यागना

C.  ए एंड बी दोनों



D.  इनमे से कोई भी नहीं

Ans: A


8. भारतीय दर्शन में कितने स्कूल रूढ़िवादी है?  

A.  3

B.  4

C.  5

D.  6

Ans: D


9. निम्न में से किस दर्शन की खोज मक्खली गोसाला द्वारा की गयी थी?  

A.  चार्वाक दर्शन दर्शन

B.  आजीविक दर्शन

C.  बौद्ध दर्शन

D.  जैन दर्शन

Ans: B


10.  'दर्शन' शब्द निम्न में से कहां से लिया गया है?  

A.  प्राचीन यूनानी

B.  प्राचीन रोमन

C.  हिब्रू भाषा

D.  अंग्रेज़ी

Ans: A

11 निम्न में से किस स्थान पर बुद्ध को एक मनुष्य के रूप में कभी नहीं दर्शाया गया है लेकिन केवल या तो दो पैरों के निशान या पहिया के एक प्रतीक के रूप में दिखाया गया था?

A. सांची

B. लोरिया

C. केसरिया

D. उपरोक्त सभी

Ans: A




12. निम्न में से कौन सा स्कूल सिर्फ ब्राह्मणवाद, जैन और बौद्ध धर्म की वजह से अपनी कला के लिए जाना जाता है?

A. गांधार कला विद्यालय

B. कला के अमरावती स्कूल

C. मथुरा कला विद्यालय

D. इनमे से कोई भी नहीं

Ans: C


13. निम्न में से कौन सा रूढ़िवादी प्रणालियों का जोड़ा हैं?

A. न्याय-वैशेषिक

B. योग-सांख्य

C. मीमांसा-वेदांता

D. उपरोक्त सभी

Ans: D


14. निम्नलिखित प्रणाली में से कौन सा अपरंपरागत सिस्टम भारतीय दर्शन में शामिल नहीं है?

A. चारवकशिम

B. आजीविक

C. जैन धर्म

D. ब्राह्मणवाद

Ans: D


15. भारतीय दर्शन प्रणाली के संबंध में निम्न कथनों पर विचार करें।



I. सभी स्कूल इस बात पर जोर देते हैं कि दर्शन का आदमी के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

II. स्कूलों में पुरुषार्थ के महत्व पर एक आम सहमति है।

III. सभी स्कूलों का मानना है कि दर्शन मानव जीवन का के अंतिम सत्य अर्थात् पुरूषार्थ, अर्थ, काम, धर्म और मोक्ष को साकार करने में आदमी की मदद करता है।

A. केवल I

B. केवल II

C. I एवं II दोनों

D. I, II एवं III

Ans: D

विज्ञान एवं चिकित्सीय प्राचीन पुस्तकों पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी


16. निम्न में से कौन रूढ़िवादी भारतीय दार्शनिक प्रणाली की सबसे पुरानी प्रणाली है?



A. सांख्य

B. योग

C. न्याय

D. वैशेषिक

Ans: A


17. निम्न में से कौन-सा पूर्व मीमांस का मुख्य उद्देश्य हैं?

A. पुरवा मीमांसा स्कूल का मुख्य उद्देश्य वेदों की व्याख्या और वेदों का अधिकार स्थापित करना है।

B. पुरवा मीमांसा स्कूल का मुख्य उद्देश्य उपनिषद् (रहस्यवादी या वेदों के भीतर आध्यात्मिक ज्ञान) के दार्शनिक शिक्षाओं पर ध्यान केंद्रित था ना कि ब्राह्मण से (पूजा और बलिदान का निर्देश) पूजा कराना था।

C. केवल A

D. A & B दोनों

Ans: C


18. भारतीय राजनीतिक दर्शन से संबंधित हैं निम्न कथनों पर ध्यान दें।



I. चाणक्य ने चौथी शताब्दी ई.पू. में अर्थशास्त्र के रूप में योगदान दिया था, जो जल्द ही भारतीय राजनीतिक दर्शन के प्रमुख ग्रंथों में से एक हो गया।

II. 20 वीं शताब्दी में स्वतंत्रता के लिए भारतीय संघर्ष के दौरान महात्मा गांधी ने अहिंसा (अहिंसा) और सत्याग्रह (अहिंसक प्रतिरोध) के दर्शन को लोकप्रिय बनाया।

III. गांधीवादी दर्शन हिन्दू भागवद् गीता,यीशु, टाल स्टाय, थोरो और रस्किन की शिक्षाओं से प्रभावित था।

ऊपर दिए गए कथनों से कौन सही हैं?

A. केवल I

B. केवल II

C. I एवं II दोनों

D. I, II एवं III

Ans: D


19. जैन दर्शन से संबंधित सही कथन का चयन करें?

A. जैन दर्शन के केंद्रीय सिद्धांतों की स्थापना 6 वीं शताब्दी ई.पू. महावीर द्वारा की गयी थी, हालांकि एक धर्म के रूप में जैन धर्म ज्यादा पुराना है।

B. एक बुनियादी सिद्धांत अनेकांतवाद, वह विचार है जो वास्तविकता के विभिन्न बिंदुओं से अलग माना जाता है, और उस दृश्य का कोई एकल बिंदु पूरी तरह से सच (आत्मवाद के पश्चिमी दार्शनिक सिद्धांत के समान) है।

C. A & B दोनों

D. दोनों नहीं

Ans: C


20. निम्न में से कौन सा कथन बौद्ध दर्शन से संबंधित हैं?

A. बौद्ध दर्शन बड़े पैमाने पर तत्वमीमांसा, घटना, नैतिकता और ज्ञान-मीमांसा में समस्याओं से संबंधित है।

B. बौद्ध धर्म सिद्धार्थ गौतम,( एक भारतीय राजकुमार बाद में बुद्ध के रूप में जाना जाता है) की शिक्षाओं पर आधारित मान्यताओं की एक गैर आस्तिक प्रणाली है

C. A & B दोनों

D. ना ही A और ना ही B

Ans: C

Click Here to Subscribe Our Youtube Channel

Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं !

किसी भी तरह का समस्या हो तो आप फेसबुक पेज पर मैसेज करें उसका रिप्लाई आपको जरूर दोस्तो आप मुझे ( Goal Study Point ) को Facebook पर Follow कर सकते है ! दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस Facebook पर Share अवश्य करें  क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks!